Sunday, March 10, 2019

मोमबत्ती बनाने के व्यवसाय के साथ प्रति वर्ष 20 लाख रुपये की कमाई !.



आपके लिए सबसे ज्यादा रोमांटिक है? बहोतो का जवाब कैंडल लाइट डिनर है । आया बिज़नस आईडिया ? जी हा, कैंडल्स - मोमबत्तियाँ .... बिजली, बल्ब, रोशनी, एल. ई. डी. आदि के युग में, अभी भी कैंडल मोमबत्तियाँ बिजली का प्रतीक हैं । पश्चिमी दुनिया में, किसी की भी मृत्यु के बाद मोमबत्तियाँ जलाई जाती हैं क्योंकि यह अगली दुनिया में रोशनी का प्रतीक है । जीसस क्राइस्ट के हाथों में मोमबत्तियाँ प्रकाश, स्वच्छता और पवित्रता का प्रतिनिधित्व करती हैं । विकिपीडिया के अनुसार, एक मोमबत्ती मोम में ज्वलनशील विक है, या एक और ज्वलनशील ठोस पदार्थ है जो प्रकाश प्रदान करता है, और कुछ मामलों में, एक खुशबू भी प्रदान करता है । एक मोमबत्ती गर्मी भी प्रदान कर सकती है, या पावर कट के समय के लिए रखने के रूप में उपयोग की जा सकती है ।

एक व्यक्ति जो मोमबत्तियाँ बनाता है उसे पारंपरिक रूप से एक मोमबती बनाने व बेचनेवाला के रूप में जाना जाता है। सरल टेबलटॉप कैंडलस्टिक्स से मोमबत्ती को पकड़ने के लिए विभिन्न उपकरणों का आविष्कार किया गया है ।

दुनिया भर के साथ-साथ भारत में भी 2010 के बाद से मोमबत्तियों और मोम की मांग बहुत बढ़ गई है।

मोमबत्ती बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें? आप प्रक्रिया को कई स्टेप्स में विभाजित कर सकते हैं।

  •  बाजार पर शोध करें : बाजार का अध्ययन या शोध करने के लिए पहला और महत्वपूर्ण कदम है। कई सवाल हैं जैसे की मोमबत्तियों के बाजार को किस प्रकार की मोमबत्तियाकी आवश्यकता है या मांग है? विभिन्न संस्कृतियां कौन सी हैं और लोग अपने धार्मिक या अन्य अवसरों पर मोमबत्तियों का उपयोग कैसे करते हैं ? कीमत क्या है ? किस तरह की एडवरटाइजिंग प्रतियोगी करते हैं और कौनसी एडवरटाइजिंग सफल होती है ? क्या प्रतियोगी ऑनलाइन बिक्री करते है या बिक्री के लिए लोगों को रखते हैं ? क्या किसी भी प्रकार की योजनाएं जैसे "दो खरीदो, एक मुफ्त पाओ" या पुरस्कार पाने की संभावना या कोई अन्य योजनाएं काम करती हैं ? आप कब और कहाँ बेचने वाले हैं ? आप उपरोक्त और उस तरीकेके प्रश्नों के लिए दिशा-निर्देश प्राप्त कर सकते हैं ।

  •  प्रशिक्षण लें. : मोमबत्तियाँ और विभिन्न प्रक्रियाएँ बनाना सीखें । बाजार में, मोमबत्ती बनाने के लिए विभिन्न मशीनें उपलब्ध हैं । तीन प्रकार की मशीनें हैं जैसे मैनुअल, सेमी आटोमेटिक और आटोमेटिक । प्रत्येक मशीन पर प्रक्रियाएं जानें और शिखे ।

  •  इन्वेस्टमेंट तय करें. : आर्गेनाइजेशन की संरचना ( structure ), स्केल और प्रोसेस को तय करें और फिर आप आवश्यक इन्वेस्टमेंट तय कर सकते हैं । यदि यह घर से किया जाने वाला एक व्यवसाय है, तो आपको कम कानूनी आवश्यकताओं के साथ बहुत कम इन्वेस्टमेंट की आवश्यकता होती है और यदि यह एक स्माल स्केल उद्योग या उच्चतर स्तर है, तो आपको अधिक इन्वेस्टमेंट और अधिक कानूनी परमिशनस की आवश्यकता होती है।

  •  आर्गेनाइजेशन की स्थापना करना. : आर्गेनाइजेशन को अच्छे नाम से स्थापित करें। आर्गेनाइजेशन की स्थापना के विभिन्न कानूनी पहलुओं को जानें जगह लेने के बाद आपको अपनी कंपनी का रजिस्ट्रेशन और जी. एस. टी. रजिस्ट्रेशनकी आवश्यकता होगी । रजिस्ट्रेशन के लिए, आप एक चार्टर्ड एकाउंटेंट और / या कंपनी सेक्रेटरी को रख सकते हैं। यदि आपके पास 20 से अधिक कर्मचारी हैं, तो आपको भविष्य निधि के लिए रजिस्ट्रेशन  करना होगा। यदि आपके पास 10 से अधिक कर्मचारी हैं तो आपको कर्मचारी का राज्य बीमा प्राप्त करना होगा आपको प्रदूषण प्रमाण पत्र भी प्राप्त करने की आवश्यकता है । यदि आप अपने ब्रांड को कॉपी करने से बचाना चाहते हैं, तो ट्रेडमार्क / पेटेंट रजिस्ट्रेशन प्राप्त करें। आपको स्थानीय प्राधिकारी से व्यवसाय स्थापित करने के लिए व्यवसाय लाइसेंस भी प्राप्त करना होगा । जोखिम और लायबिलिटीस के लिए, एक बीमा भी प्राप्त करें। व्यवसाय नाम की एक वेबसाइट पंजीकृत करें ताकि उसके लिए भविष्यमे ज्यादा कोस्ट न हो ।

  •  मैन्युफैक्चरिंग शुरू करना : मैन्युफैक्चरिंग प्रक्रिया शुरू करें । आप उसके लिए कर्मचारियों को रख सकते हैं और फिर उत्पादन शुरू किया जा सकता है । उत्पादन के साथ स्थानीय और बाहरी होलसेल विक्रेताओं, रिटेल विक्रेताओं या मार्केटर के साथ संवाद करें । आप अपनी खुद ही बेच सकते हैं । पहले पॉइंट के अनुसार जैसा कि आपने रिसर्च किया, आप अपने स्वयं की ऑनलाइन साइट और अन्य ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म जैसे कि फ्लिपकार्ट या अमेज़ॅन पर बेचने की कोशिश कर सकते हैं।

  • एडवरटाइजिंग : जैसा कि आप ग्रोथ करते हैं, एडवरटाइजिंग के नए तरीकों का प्रयास करें ।

  • एक्सपेंशन / रेथिन्किंग : यदि आप अपना उत्पाद बढ़ाना चाहते हैं यदि मांग ज्यादा है । यदि मांग कम है तो आप अपने व्यवसाय और मार्केटिंग एक्टिविटीज पर पुनर्विचार कर सकते हैं। लेकिन, कभी भी यह निर्णय दिनों या हफ्तों में न लें । ये निर्णय महीनो या सालो का है । इस प्रकार, धैर्य रखें और आगे बढे ।

  • विकास और विविधता : आप अन्य संबंधित व्यवसायों में विकास और विविधता ला सकते हैं ।

 
वेबसाइट enterslice.com के अनुसार, आपको प्लांट और मशीनरी के लिए रु 9 लाख और प्लांट के अलावा वर्किंग कैपिटल के लिए रु 24 लाख लगेंगे अगर 500 किलोग्राम दिनका उत्पादन आप चाहते है । विक्स काटने के लिए एक्सट्रूज़न मशीन की कीमत रु 2,00,000 / - लगभग हो सकती है जैसा की अलीबाबा पर दिखाया गया है। लेकिन, आप कम लागत वाली कम मात्रा वाली मशीन से शुरुआत कर सकते हैं। विभिन्न मशीनें उपलब्ध हैं । जैसे की indiamart पर दिखाया गया है, लगभग रु 60,000/- में आटोमेटिक मशीने, लगभग रु 30,000/- सेमी आटोमेटिक मशीने और मैनुअल मशीने उससे भी सस्ता है । ये मशीने हर दिन 10 - 40 किग्रा उत्पादन कर शकती है । यदि आप कम मात्रा के लिए जा रहे हैं, तो विक्स कटिंग को कैंची से मैन्युअल किया जा सकता है । औसतन, यदि आप छोटे स्तर पर मोमबत्ती बनाना शुरू करते हैं, तो आप मशीनरी और कार्यशील पूंजी के लिए रु 1,50,000/- से शुरुआत कर सकते हैं।

मोमबत्ती बनाने का मोम अमेज़न पर रु 100/- से रु 300/- में 500 ग्राम के लिए मिलता है । मोमबत्तियों के लिए विक्स भी लगभग रु 200/- में 100 टुकड़ों के लिए अमेजन पर उपलब्ध हैं। मोमबत्तियों के लिए परफ्यूम रु 100/- से रु 1000/- में आवश्यकतानुसार अमेज़न पर उपलब्ध हैं । यदि आप सुगंधित मोमबत्तियाँ बनाना चाहते हैं तो परफ्यूमके केवल कुछ बूंदों की आवश्यकता है।

मोमबत्ती बनाने के व्यवसाय से आप कितना कमा सकते हैं ? जैसा कि वेबसाइट enterslice.com पर दिखाया गया है, आप व्यवसाय से 58% लाभ कमा सकते हैं। इस प्रकार, यदि आप लघु उद्योगों के लिए रु 40 लाख इन्वेस्ट करते है तो आप प्रति वर्ष 23 लाख से अधिक कमा सकते हैं। नेट प्रॉफिट प्रति वर्ष 20 लाख से अधिक हो सकता है ।

विकास की संभावनाएं अच्छी हैं। आप क्रेयॉन बनाना शुरू कर सकते हैं । क्रेयॉन का उत्पादन मोमबत्तियों के उत्पादनसे काफी समान है और प्रॉफिट मार्जिन अधिक है। ऑनलाइन बिक्री से मांग बढ़ सकती है और आप हमेशा अधिक मात्रा में बेच सकते हैं और विस्तार कर सकते हैं । आप मोम प्रतिमाओं ( वैक्स स्टेचू ) का भी उत्पादन कर सकते हैं ।


जंच रहा है  ?

किसके लिए इंतजार कर रहे हो  ?

शुभकामनाएँ....

आगे बढ़ें....


1 comment:

  1. The latest trend now is serving potpourri with aromatic candles which enhances the fragrance of candles. Western countries mein ye trends kafi chala hai. Potpourri is just madeup with dried petals of flowers and few aromatic stems and roots

    This combo packs helps in yielding premium prices of aromatic candles

    ReplyDelete